Place ad here
रुद्रपुर

रुद्रपुर शैल सांस्कृतिक भवन में शैल सांस्कृतिक समिति की ओर से बैठकी होली का आयोजन किया गया।

रूद्रपुर। गंगापुर रोड पर शैल सांस्कृतिक भवन में शैल सांस्कृतिक समिति की ओर से बैठकी होली का आयोजन किया गया। इस दौरान कार्यक्रम में पहुंचे लोग होली गीतों पर जमकर थिरके। होली गीतों से पूरा माहौल होलीमय हो गया। सभी ने एक दूसरे को अबीर-गुलाल लगाकर होली की शुभकामनाएं दीं। होली मिलन समारोह का परिषद के अध्यक्ष गोपाल पटवाल, संरक्षक भारत लाल शाह, महिला समिति की अध्यक्ष कमलेश बिष्ट ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्जवलित करके किया। बैठकी होली के बाद पुरूषोें की खड़ी होली का भी आयोजन हुआ। बैठकी होली में पहुंचने पर नवनिर्वाचित विधायक शिव अरोरा का पर्वतीय समाज के लोगों ने जोरदार स्वागत करते हुए उन्हें बधाई दी। इस दोरान विधायक शिव अरोरा भी होली के रंग में रंगे नजर आये। उन्होनंे सभी को होली की बधाई दी। उन्होनंे कहा कि बैठकी व खड़ी होली पर्वतीय समाज की अहम होली होती है। इसके माध्यम से जहां समाज को संगठित किया जा सकता है। वहीं अपनी संस्कृति का बोध भी होता है। होली भाईचारे का प्रतीक है। होली का त्यौहार समाज को मतभेदों को भुलाकर आपसी भाईचारे में रहने का संदेश भी देता है। कार्यक्रम में होली गीतों का सिलसिला देर शाम तक चलता रहा। इस दौरान सिद्धि के दाता, मेरो रंगीलो देवर, तुमर करो कपोलन लाल, नदी यमुना के तीर कदम्ब, सुमिरो सीता राम, ऐसी तपस्या होइ भगीरथ कैसे आंउफ रे कन्हैया तेरी गोकुल नगरी जैसे हाली गीतोें पर महिलाएं जमकर थिरकी। महिलाओं की बैठकी होली के तत्पश्चात शैल परिषद से जुड़े पुरूषों की खड़ी होली का भी आयोजन हुआ। जिसमें शिव के मनमाही बसे काशी, जोगी आओ शहर में व्यापारी, जल कैसे भरू जमुना गहरी, झोड़ा गायन चैखुटे की पार्वती गीतों की प्रस्तृति दी गई।  इस मौके पर नवनिर्वाचित भाजपा विधायक शिव अरोरा, समिति की उपाध्यक्ष दीपा जोशी, पूर्व स्वास्थ्य महानिदेशक डाॅ. अमिता उप्रेती, नीलम कांडपाल, मीना उपाध्याय, जानकी तिवारी, सुधा जोशी, शालिनी बोरा, भगवती सिंह, गीता जोशी, नलनी पांडेय, ललित मोहन उप्रेती, दयाकिशन दनाई, सतीश ध्यानी, सतीश  ध्यानी, मनोज कांडपाल,ललित मिगलानी नीलाबंर जोशी आदि मौजूद रहे।

1213

LEAVE A COMMENT

Comment