Place ad here
ब्रेकिंग न्यूज़

ब्रेकिंग न्यूज़ जेआईई इंटरनेशनल स्कूल के 15 से ज्यादा बच्चों ने बनाए विश्व कीर्तिमान

सपने वो नहीं, जो हम सोते वक्त देखते हैं, सपने तो वो हैं जो हमें सोने नहीं देते' डा. एपीजे अब्दुल कलाम की इन लाइनों को बहुतों ने सुना और पढ़ा होगा। इन्हें हकीकत में जी रहे हैं उत्तराखंड के रुद्रपुर शहर के राजेश सिंह एवं सुनीता सिंह जिन्होंने अपने विद्यालय को महज 4 साल में हर क्षेत्र में नंबर वन बना दिया है। उत्तराखंड राज्य के रुद्रपुर शहर के जे.आई.ई. इंटरनेशनल स्कूल के 15 से अधिक विद्यार्थियों ने अलग-अलग क्षेत्रों में विश्व रिकॉर्ड बनाए हैं गौर करने वाली बात यह है यह उपलब्धि उन्होंने अपने शिक्षकों की मदद से हासिल की है। एशिया की प्रसिद्ध इंटरनेशनल स्कूल फ्रेंचाइजी से जुड़े जे.आई.ई इंटरनेशनल स्कूल, रुद्रपुर में मलेशिया, नेपाल एवं भारत के कई राज्यों से कई शिक्षाविद विजिट कर चुके हैं। कई अंतरराष्ट्रीय पुरस्कारों से सम्मानित इस स्कूल के बच्चों को उत्तराखंड के शिक्षा मंत्री भी सम्मानित कर चुके हैं। हाल में ही गिनीज बुक ऑफ रिकॉर्ड होल्डर, प्रमुख शिक्षाशास्त्री एवं मेमोरी ट्रेनर विनोद शर्मा ने स्कूल का दौरा करते हुए कहा कि वास्तव में सभी शिक्षकों को जे.आई.ई इंटरनेशनल स्कूल रुद्रपुर को एक बार विजिट करना चाहिए और सीखना चाहिए कि बच्चों को खुशी के साथ कैसे पढ़ाया जाता है। वास्तव में स्कूल का पाठ्यक्रम अनूठा है और बच्चों को नैतिक मूल्यों के साथ जो शिक्षा दी जा रही है वह वास्तव में अतुलनीय है जो उनके उज्जवल भविष्य का निर्माण कर रही है। यह बच्चे आगे जाकर अपने स्कूल का ही नहीं बल्कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपने देश का नाम रोशन करेंगे ।

1213

LEAVE A COMMENT

Comment