Place ad here
पुलिस कार्यवाही से बचने हेतु विदेश(कुवैत) भाग रहे अभियुक्त को लुकआउट नोटिस जारी कर उधमसिंहनगर पुलिस ने दिल्ली एयरपोर्ट से किया गिरफ्तार, पत्नी के साथ मारपीट व उत्पीड़न का था आरोपी

पुलिस कार्यवाही से बचने हेतु विदेश(कुवैत) भाग रहे अभियुक्त को लुकआउट नोटिस जारी कर उधमसिंहनगर पुलिस ने दिल्ली एयरपोर्ट से किया गिरफ्तार, पत्नी के साथ मारपीट व उत्पीड़न का था आरोपी .


दिनांक 24 फरवरी 2022 को थाना ट्रांजिट कैंप में वादिनी कुलदीप कौर पत्नी हरविंदर सिंह निवासी चंद्रा एनक्लेव फेस-2 थाना ट्रांजिट कैंप द्वारा अपने पति हरविंदर पुत्र अमीर सिंह निवासी राजपुर लतीफपुर थाना गंगोह जिला सहारनपुर उत्तर प्रदेश द्वारा मारपीट किए जाने व दहेज की मांग को लेकर तथा वर्ष 2015 में शादी होने के उपरांत उसे कोई खर्चा न दिए जाना आदि के आरोप लगाए गए। महिला उत्पीड़न का प्रकरण होने के कारण उक्त प्रार्थना पत्र पर महिला हेल्पलाइन द्वारा काउंसलिंग हेतु दोनों को दिनांक 5 मार्च 2022 को बुलाया गया। जिसमें पति के न आने के कारण अग्रिम तिथि 15 मार्च 2022 रखी गई। जिसमें भी उसका पति नहीं आया। इसके उपरांत अग्रिम तिथि 29 मार्च 2022 को दी गई जिसमें महिला द्वारा बताया गया कि उसका पति पुलिस कार्यवाही से बचने हेतु विदेश भागने की फिराक में है। जिस पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अधीक्षक उधमसिंहनगर डॉ मंजूनाथ टीसी महोदय द्वारा त्वरित इस प्रकरण का संज्ञान लेते हुए इसका लुक आउट सर्कुलर दिनांक 1 अप्रैल 2022 को जारी किया गया। जिसके आधार पर दिनांक 4 अप्रैल 2022 को इमीग्रेशन नई दिल्ली द्वारा हरविंदर सिंह उपरोक्त को विदेश भागने के दौरान उक्त लुकआउट नोटिस के आधार पर रोक कर हमें सूचित किया गया। तत्काल टीम गठित कर उसे दिल्ली आईजीआई एयरपोर्ट से उसे हिरासत में लाया गया। इसके विरुद्ध थाना ट्रांजिट कैंप में मुकदमा अपराध संख्या 120 धारा 323/504/498 ए व दहेज प्रतिषेध अधिनियम के तहत मुकदमा पंजीकृत किया गया। उक्त व्यक्ति कुवैत पब्लिक ट्रांसपोर्ट कंपनी में कार्य करता था। जो आईजीआई एयरपोर्ट से पुनः विदेश जाने की फिराक में था। वर्ष 2015 में शादी के उपरांत हरविंदर सिंह वह इसकी पत्नी के मध्य घरेलू विवाद बने रहे थे। जिसमें वर्ष 2019 से 2022 तक यह विदेश में ही कार्य करता था तथा यदा-कदा अपने घर सहारनपुर आता था। ससुराल वालों द्वारा इसकी पत्नी को उसके मायके ट्रांजिट कैंप में छोड़ दिया गया था। घरेलू हिंसा का प्रकरण होने के कारण तथा महिला हेल्पलाइन की काउंसलिंग में सूचित करने के उपरांत भी न आने तथा चुपचाप विदेश भागने के कारण इसे एलओसी के माध्यम से गिरफ्तार किया गया।

1213

LEAVE A COMMENT

Comment