Place ad here
प्रदेश में शांति के लिए कांग्रेस ने की ’’सर्वधर्म समभाव’’ प्रार्थनाा सभा

प्रदेश में शांति के लिए कांग्रेस ने की ’’सर्वधर्म समभाव’’ प्रार्थनाा सभा .


                
देहरादूनः-हमारे भारत देष की पूरे विष्व में एक अलग पहचान है। इसकी पहचान है अनेकता में एकता, इसकी पहचान है सर्वधर्म समभाव, वह पहचान है वसुधैव कुटुम्बकम की, वह पहचान है विष्व के सबसे बडे लोकतंत्र के रूप में, सबसे अनूठे संविधान के रूप में हमारा देष जाना जाता है। जिस तरह से हमारे देष में अलग-अलग धर्म के, जाति क,े समुदाय के, वर्ग के अलग-अलग बोली भाशा, पहनावा, खानपान और संस्कृति के लोग एक साथ एक गुलदस्ते की भाॅति सौहार्दपूर्ण माहौल में रहते हैं उसी के लिए हमारा देष ख्याती प्राप्त है। हमारा देष विविधताओं का देष है इसकी संस्कृति और सभ्यता अमूल्य धरोहर है। हमारे वेद पुराण हमें सदभाव सहिश्णुता एव विष्व षान्ति का संदेष देते है।
       परन्तु आज हमारे देष की सामाजिक समरसता एवं ताने बाने को छिन्न भिन्न करने का कुचक्र रचा  जा रहा है। आज देष में धार्मिक उन्माद फैलाकर सामाजिक व राजनैतिक सौहार्द को बिगाडने की कोषिष की जा रही है जिसको कांगे्रस पार्टी कभी भी कामयाब नही होने देगी और भाजपा की फांसीवादी मंसूबों को सफल नही होने देगी।
      आज देष एवं प्र्रदेष में चल रही इन्ही चिन्ताजनक स्थितियों के बीच उत्तराखण्ड कांग्रेस के प्रदेष अध्यक्ष करन माहरा के आह्वान पर भारी संख्या में कांगे्रसजनोें ने गांधी पार्क स्थिति महात्मा गांधी की प्रतिमा के समक्ष सर्वधर्म समभाव सभा का आयोजन किया गया। सभा में कांगे्रस कार्यकर्ताओं ने 20 मिनट मौन रखकर विष्वषान्ति हेतु अन्र्तमन से प्रार्थना की। तदोपरान्त राश्ट्रपिता महात्मा गांधी जी के प्रिय भजन ’रघुपति राघव राजा राम पतित पावन सीता राम ईष्वर अल्लाह तेरो नाम सबको संनमति दे भगवान, वैश्णव जन तो तेने कहिये, जे पीड परायी जाणे रे, दे दी हमें आजादी बिना खडग बिना ढाल, साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल इत्यादि भजन गाये  गए।  
       इस सर्वधर्म संभाव सभा में अलग-अलग धर्मो के धर्मगुरूआंे ने विष्व में अमन, चैन सुख षान्ति एवं समृद्वि की प्रार्थना की। जिसमें फादर अमित सैमुअल, हाजी मुस्तकीन अहमद, आचार्य नरेषानन्द नौटियाल, मुख्य ग्रंथी परमजीत ंिसह ने अपने-अपने धर्म ग्रंथों से संदेष एवं प्रार्थना की।  
       इस अवसर पर पूर्व मुख्यमंत्री हरीष रावत, नेता प्रतिपक्ष यषपाल आर्य, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष एवं चकराता विधायक प्रीतम सिह, बद्रीनाथ विधायक राजेन्द्र सिंह भण्डारी, नानकमत्ता विधायक गोपाल राणा, प्रतापनगर विधायक विक्रम ंिसह नेगी, हरिद्वार ग्रामीण विधायक अनुपमा रावत, पूर्व विधायक विजयपाल सजवाण, राजकुमार, महामंत्री विजय सारस्वत, मथुरा दत्त जोषी, गरिमा महरा दसौनी, राजीव महर्शि, षिल्पी आरोड़ा, अजय ंिसहं, मनीश खण्डूरी, जिलाध्यक्ष संजय किषोर, अष्विनी बहुगुणा, महानगर अध्यक्ष लालचन्द षर्मा, वैभव वाािलयाख् मनीश नागपाल, चैधरी गौरव ंिसह, डाॅ0 आर0 पी0 रतूडी, वसी जैदी, नवीन जोषी, हरि कृश्ण भट्ट, याकूब सिद्विकी, दीप बोहरा, बिजयपाल रावत, पूरन ंिसह रावत, महाबीर सिंह रावत, परिणीता बडौनी, षान्ति रावत, कमलेष रमन, डाॅ. प्रतिमा ंिसह, सुनित राठौर, अजय नेगी, जविन्दर ंिसह गोगी, देवेन्द्र सिंह, विनोद सिंह चैहान, सुषील राठी, डाॅ0 प्रदीप जोषी, आषीश नौटियाल, डाॅ0 विजेन्द्र पाल, अमरजीत सिंह, विषाल मौर्या, प्रदीप गैरोला, जगजीत रौतेला, सतेन्द्र सिंह, अभिनव थापर, बिरेन्द्र पंवार, यामीन अंसारी, नजमा खान, अनुराधा तिवाडी, उर्मिला थापा, पूनम कण्डारी, प्रियंका भण्डारी, दर्षन लाल, राजीव चैधरीख् मनीश सैनी, जितेन्द्र राठी, सुषील राठी, जय प्रकाष तोपवाल, राहुल चैधरी, रविन्द्र चैधरी, नवनीत सती, पंकज क्षेत्री, संग्राम सिंह पुण्डीर, इंन्द्र लाल आर्य, मनविन्दर सिंह, कमल रावत, जसबीर रावत, संदीप चमोली,
                                                        

1213

LEAVE A COMMENT

Comment