Place ad here
आन्दोलनरत आउटसोर्स चिकित्सा कर्मियों पर मुकदमा दर्ज किये जाने के विरोध में आज कांग्रेसजनों के प्रतिनिधिमण्डल ने प्रदेश महामंत्री संगठन विजय सारस्वत के नेतृत्व में प्रदेश के पुलिस महानिदेशक श्री अशोक कुमार से उनके कार्यालय में मुलाकात कर ज्ञापन प्रेषित किय

आन्दोलनरत आउटसोर्स चिकित्सा कर्मियों पर मुकदमा दर्ज किये जाने के विरोध में आज कांग्रेसजनों के प्रतिनिधिमण्डल ने प्रदेश महामंत्री संगठन विजय सारस्वत के नेतृत्व में प्रदेश के पुलिस महानिदेशक श्री अशोक कुमार से उनके कार्यालय में मुलाकात कर ज्ञापन प्रेषित किय .

 

देहरादून 28 अप्रैल:
आन्दोलनरत आउटसोर्स चिकित्सा कर्मियों पर मुकदमा दर्ज किये जाने के विरोध में आज कांग्रेसजनों के प्रतिनिधिमण्डल ने प्रदेश महामंत्री संगठन विजय सारस्वत के नेतृत्व में प्रदेश के पुलिस महानिदेशक श्री अशोक कुमार से उनके कार्यालय में मुलाकात कर ज्ञापन प्रेषित किया।


ज्ञापन में कंाग्रेस प्रतिनिधिमण्डल ने कहा कि नौकरी से निकाले गये इन 2200 आउटसोर्स कर्मियों द्वारा कोरोना जैसी वैश्विक महामारी में अपनी जान हथेली पर रखकर राज्य के विभिन्न चिकित्सालयों में सेवा देने वाले इन कर्मियों को राज्य सरकार द्वारा नौकरी से निकाला जाना उनके भविष्य के साथ खिलवाड है। यही नहीं इन कर्मियों द्वारा अपनी जायज मांगों लेकर निकाले गये मार्च के दौरान पुलिस द्वारा मारपीट तथा संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज किया जाना सरकार की हिटलरशाही को दर्शाता है। कांग्रेस प्रतिनिधिमण्डल ने मांग की कि सभी 2200 आउटसोर्स कर्मियों की नौकरी बहाल की जाय तथा मारपीट के लिए दोषी पुलिस कर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की जाय। (ज्ञापन संलग्न है)।
ज्ञापन देने वालों में प्रदेश महामंत्री संगठन विजय सारस्वत, पूर्व मंत्री अजय सिंह, प्रदेश प्रवक्ता गरिमा दसौनी, प्रदेश प्रवक्ता सुजाता पाॅल, अमरजीत सिंह, कपिल भाटिया, पुष्कर सारस्वत आदि शामिल थे।  

गरिमा दसौनी
प्रदेश प्रवक्ता

 

1213

LEAVE A COMMENT

Comment