Place ad here
शांतिपुरी में खनन के वर्चस्व को लेकर हुए हत्याकांड के 03 आरोपियों को किया गिरफ्तार

शांतिपुरी में खनन के वर्चस्व को लेकर हुए हत्याकांड के 03 आरोपियों को किया गिरफ्तार .

 

दि० 14/5/22 को प्रातः थाना पंतनगर क्षेत्रान्तर्गत शान्तिपुरी न03 मे गोविन्द सामन्त श्री ट्रेडर्स खनन पट्टा खेतों के पास खनन के वाहनों को रास्ते से हटाने को लेकर संदीप सिंह कार्की पुत्र जगत सिंह कार्की निवासी शान्तिपुरी न० 3 थाना पन्तनगर जनपद उधमसिंहनग व पंकज जोशी व विपक्षी 1 दीपक सिंह मेहता पुत्र मोहन सिंह मेहता 2- मोहन सिंह मेहता पुत्र भीम सिंह मेहता निवासीगण शान्तिपुरी न0 3 थाना पन्तनगर के बीच विवाद हो गया था। मोहन सिंह व दीपक सिंह द्वारा मौके पर ललित मेहता को हथियार पिस्टल के साथ बुलाया गया व मौके पर तीनों ने एक राय होकर ललित मेहता ने पिस्टल से संदीप कार्की की छाती में गोली मारकर हत्या कर दी व अभि0 गण मौके से फरार हो गये।
मृतक के भाई किशन सिंह कार्की पुत्र स्व० श्री जगत सिंह कार्की निवासी शान्तिपुरी न0 3 थाना पन्तनगर जनपद उधमसिंहनगर की तहरीर पर तत्काल ही थाना हाजा पर FIR 110-91/2022 धारा 341/302/323/506/34 भादवि बनाम। दीपक सिंह मेहता पुत्र मोहनसिंह मेहता 2-मोहन सिंह मेहता पुत्र भीम सिंह मेहता 3- ललित सिंह मेहता पुत्र मोहन सिंह मेहता निवासीगण शान्तिपुरी नD 3 थाना पन्तनगर पंजीकृत किया गया। अभिगण की गिरफ्तारी हेतु श्रीमान वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय उधमसिंहनगर के आदेश के अनुपालन व श्रीमान पुलिस अधीक्षक रुद्रपुर एंव श्रीमान क्षेत्राधिकारी महोदय पन्तनगर के निर्देशन में प्रभारी निरीक्षक मन्तनगर एवं SOG उधमसिंहनगर को अभिवगण की गिरफ्तारी हेतु निर्देशित किया गया तथा उक्त घटना के अनावरण हेतु टीमें गठित की गयीं। उक्त टीमो द्वारा संयुक्त प्रयास करते हुए घटनास्थल के आस पास के CCTV फुटेज एंव संदिग्ध व्यक्तियों से पूछताछ के उपरान्त सूचना संकलन करते हुए घटना के विभिन्न कारणी एवं विवादो पर कार्य करते हुए वांछित अभि0 की गिरफ्तारी हेतु लगातार दबिश जारी रखते हुए दिनांक 15/16/5/22 को सूचना संकलन के आधार पर लालकुआ रोड मन्दिर मस्जिद के पास अभि0 मोहन सिंह मेहता पुत्र भीम सिंह मेहता को दिनांक 16.05.2022 को गिरफ्तार किया गया तथा अभि० ललित सिंह मेहता पुत्र मोहन सिंह मेहता का नगला वाई पास से आगे लालकुआ रोड पर गिरफ्तार किया गया तथा दीपक मेहता पुत्र मोहनसिंह मेहता को गिरफ्तार किया गया जिनसे विस्तृत पूछताछ की गयी। अभि0 ललित मेहता की निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त आलाकत्ल एक अदद देशी पिस्टल 32 बोर व घटना में प्रयुक्त कार क्रेटा को बरामद किया गया है। अभिगण द्वारा विस्तृत पूछताछ की गई तो बताया गया कि, " उनके और मृतक संदीप सिंह कार्की के मध्य खनन कार्यों को लेकर काफी दिनों से विवाद चल रहा था। हमको शक था कि हमारी जे०सी०बी खनन अधिकारियों से संदीप कार्की व पंकज जोशी की शिकायत पर पकड़ी गयी थी जिस पर हमे ढाई लाख रु जुर्माना देना पड़ा था जिस कारण रंजिश और गहरी हो गयी थी। हमारी जे0सी0बी का डाईवर घटना के दिन नहीं आया था। हमने पंकज जोशी को उसकी जेसीबी से गाड़ी भरने के लिए कहा तो उसने मना कर दिया तब बात बढ़ गयी जिससे हमारी बेईज्जती हो गयी तब हमने अपना ट्रक रास्ता रोकने के लिए खड़ा कर दिया। जिससे विवाद बढ़ गया संदीप कार्की बीच बचाव करने लगा तथा पंकज जोशी का पक्ष लेने लगा तब ललित मेहता ने संदीप कार्की को अपनी पिस्टल से गोली मार दी और मौके से क्रेटा गाड़ी से फरार हो गये। खनन के वर्चस्व को लेकर उक्त विवाद हुआ था। अभिगणों का पूरा परिवार संगठित होकर अपराध कारित करता है जिनके विरुद्ध अग्रिम वैधानिक कार्यवाही भी की जाएगी। अभि0 ललित मेहता का पूर्व में भी आपराधिक इतिहास रहा है।

अभियुक्तगण का नाम व पता
1- मोहन सिंह मेहता पुत्र भीम सिंह मेहता
2- ललित सिंह मेहता पुत्र मोहन सिंह मेहता
3- दीपक सिंह मेहता पुत्र मोहन सिंह मेहता निवासीगण शान्तिपुरी न० 3 थाना पन्तनगर

बरामदगी
एक अदद पिस्टल .32 बोर
घटना में प्रयुक्त एक क्रेटा गाडी UK06 BC- 1001
घटनास्थल से एक खोखा व एक जिन्दा कार0.32 बोर

आपराधिक इतिहास अभि0

अभि0 ललित सिंह मेहता पुत्र मोहन सिह मेहता निवासी शान्तिपुरी न0 3 थाना पन्तनगर उधम सिंह नगर ।
1- FIR no 26/16 धारा 323/324/308 IPC
2- FIR no 15/20 धारा 325/323/504/506/427IPC
3- FIR no 91/22 धारा 302/323/341/506/34 भादवि व 3/25 आर्म्स एक्ट

अभि0 दीपक मेहता पुत्र मोहन सिह मेहता निवासी शान्तिपुरी न0 3 थाना पन्तनगर उधम सिंह नगर ।
1- FIR no 15/20 धारा 325/323/504/506/427 IPC।
2- FIR no 91/22 धारा 302/323/341/506/34 भादवि।

*पुलिस टीम को जिलाधिकारी महोदय उधमसिंहनगर महोदय द्वारा 10,000 व एसएसपी महोदय द्वारा  5000 रुपये का ईनाम घोषित किया गया है।*

*मीडिया सेल उधमसिंहनगर पुलिस।*

1213

LEAVE A COMMENT

Comment