Place ad here
कांग्रेस पार्टी ने केन्द्र की मोदी सरकार पर केन्द्रीय ऐजेंसियों के माध्यम से विपक्षी दल के नेताओं के उत्पीडन का आरोप लगाया

कांग्रेस पार्टी ने केन्द्र की मोदी सरकार पर केन्द्रीय ऐजेंसियों के माध्यम से विपक्षी दल के नेताओं के उत्पीडन का आरोप लगाया .

 

कांग्रेस पार्टी ने केन्द्र की मोदी सरकार पर केन्द्रीय ऐजेंसियों के माध्यम से विपक्षी दल के नेताओं के उत्पीडन का आरोप लगाते हुए आज पूरे देश में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) कार्यालयों के सम्मुख विरोध प्रदर्शन किया।
उपरोक्त जानकारी देते हुए प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मीडिया प्रभारी राजीव महर्षि ने बताया कि इसी कार्यक्रम के तहत आज प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष करन माहरा के नेतृत्व में देहरादून स्थित प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) कार्यालय के बाहर उत्तराखण्ड के कांग्रेसजनों द्वारा विशाल धरना-प्रदर्शन किया आयोजित किया गया।
इस अवसर पर उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष करन माहरा ने कहा कि भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस 136 साल से इस देश के हर व्यक्ति की आवाज है। हम उस गांधी के वंशज हैं, जिन्होंने निहत्थे रहकर देश की जनता की ताकत के बल पर तानाशाही ताकत को, अंग्रेज की ताकत को हिंदुस्तान छोड़कर भाग जाने को विवश कर दिया था। हम उस पंडित नेहरु की वैचारिक सोच हैं जिन्होंने देश की आजादी के आंदोलन में 10 साल कारावास में बिताए और राष्ट्र निर्माण का संकल्प पूरा करके दिखाया। हम उस सरदार पटेल के उत्तराधिकारी हैं, जिन्होंने आजाद भारत को पंडित नेहरु जी के साथ कंधे से कंधा मिलाकर एक सूत्र में पिरोया। हम उस मौलाना अबुल कलाम आजाद और डॉ. राजेंद्र प्रसाद की सोच हैं, जिन्होंने जिन्ना के विभाजनकारी एजेंडे को सिरे से खारिज कर दिया। हम उन ‘माफीवीरों’ के अनुयायी नहीं, जो आज सत्ता के सिहांसन पर बैठे हैं, जो कारागार पर, कारागार की दीवारों पर अंग्रेजों से माफीनामा लिखकर आए थे। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार मंहगाई, बेरोजगारी, भ्रष्टाचार से लडने की बजाय इसके खिलाफ बोलने वालों के साथ लड रही है।
नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य ने कहा कि केन्द्र की मोदी सरकार अपनी नाकामियों को छुपाने के लिए विपक्षी दल के नेताओं के खिलाफ राजनैति षडयंत्र के तहत फर्जी मुकदमें दर्ज कर केन्द्र सरकार के अधीनस्थ ऐजेंसियों के माध्यम से उत्पीड़न करना चाहती है जिसका कांग्रेस कार्यकर्ताओं को सडक से लेकर सदन तक डटकर विरोध करना है तथा जनता को मोदी सरकार की सच्चाई बतानी है।
पूर्व प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि मोदी सरकार के इशारे पर कांग्रेस पार्टी के शीर्ष नेता एवं पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी जी के खिलाफ ईडी के माध्यम से उत्पीडनात्मक कार्रवाई की जा रही है जिसे कांग्रेस कार्यकर्ता कतई बर्दास्त नहीं करेगा। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार हर मोर्चे पर विफल साबित हुई हैं। मंहगाई, बेरोजगारी, भ्रष्टाचार से जनता का ध्यान हटाने के लिए केन्द्रीय ऐजेंसियों का सहारा लेकर विपक्षी दल के शीर्ष नेताओं को झूठे आरोपों में उलझा रही है। आज मंहगाई, बेरोजगारी व भ्रष्टाचार अपने चरम पर है। देश का नौजवान और किसान अपने अधिकारों की लडाई लड रहा है। राहुल गांधी जी का इन्हीं दबे कुचले वर्ग की आवाज उठाने के लिए केन्द्रीय ऐजेंसियों के माध्यम से उत्पीडन किया जा रहा है।  
घरना-प्रदर्शन में प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा, नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह, विधायक राजेन्द्र भण्डारी, उपनेता प्रतिपक्ष भुवन कापडी, विक्रम सिंह नेगी, ममता राकेश, फरकान अहमद, विरेन्द्र जाति, रवि बहादुर, अनुपमा रावत,पूर्व विधायक मनोज रावत, प्रदेश उपाध्यक्ष संगठन मथुरादत्त जोशी, प्रदेश मीडिया प्रभारी राजीव महर्षि, महामंत्री संगठन विजय सारस्वत, प्रदेश उपाध्यक्ष सूर्यकान्त धस्माना, हीरा ंिसह बिष्ट, दिनेश अग्रवाल, पूरन ंिसह रावत, महामंत्री गोदावरी थापली, राजेन्द्र शाह, अजय सिंह, नवीन जोशी, डाॅ0 संतोष चैहान, पी.के. अग्रवाल, यशपाल राणा, मनीष नागपाल, राजेन्द्र भण्डारी, अनुपम शर्मा, पूर्व विधायक राजकुमार, ललित फस्र्वाण, प्रेमानन्द महाजन, युवा अध्यक्ष सुमित्तर भुल्लर, राजपाल खरोला, महिला अध्यक्ष ज्योति रौतेला, प्रदीप थपलियाल, एनएसयूआई अध्यक्ष मोहन भण्डारी, जयेन्द्र रमोला, महानगर अध्यक्ष लालचन्द शर्मा, जसविन्दर सिंह गोगी, प्रदेश सचिव शांति रावत, राकेश नेगी, आनन्द बहुगुणा, प्रवक्ता दीप बोहरा, महिला उपाध्यक्ष पायल बहल, जितेन्द्र सरस्वती, कलीम खान, प्रभुलाल बहुगुणा, नेता प्रतिपक्ष नगर निगम डाॅ0 विजेन्द्र पाल, उर्मिला थापा, जिलाध्यक्ष संजय किशोर, अश्विनी बहुगुणा, महन्त विनय सारस्वत, राकेश राणा, संजय अग्रवाल, अल्का पाल, सुशील राठी, कमलेश रमन, लक्ष्मी अग्रवाल, मीना रावत, सूरत सिंह नेगी, अमरजीत सिंह, डाॅ0 प्रदीप जोशी, विकास नेगी, विनीत कुमार भट्ट, विशाल मौर्य, राॅबिन त्यागी, रितेश क्षेत्री, शैलेन्द्र करगेती, आशीष सैनी, नदीम अहमद, गुल मोहम्मद, इलियास अंसारी, आलोक मेहता, अर्जुन सोनकर, सुशील बांगा, एहतात खान, मुकीम अहमद, मुकेश सोनकर, सविता सोनकर, मोहन काला, जगदेव सिंह सेखो, अंजली चमोली, भरत चंद रमोला, रामसिंह बघेल, मनोज नौटियाल, कपिल भाटिया सहित सैकडों कांग्रेस कार्यकर्ता शामिल थे।

 

1213

LEAVE A COMMENT

Comment